ESIC ई पहचान कार्ड डाउनलोड करें – ESIC E Pehchan Card

किसी भी संस्था को चलाने के लिए कर्मचारियों के साथ-साथ एक अच्छे नेतृत्व की भी जरूरत होती है जब तक एक अच्छा नेतृत्व करने वाला है व्यक्ति किसी संस्था का सर्वोच्च पदाधिकारी नहीं होता है। तब तक कर्मचारियों एवं कार्य को अच्छी तरह से चलाया नहीं जा सकता है। हमारे देश में न जाने कितनी संस्थाएं एवं कंपनियां है जो अच्छे नेतृत्व के कारण देश में ही नहीं बल्कि दुनिया भर में अपना नाम रोशन किया है। संस्था के अंदर हर तरह के व्यक्ति कार्य करते हैं उन सब को एक दूसरे के साथ समन्वय एवं अच्छा व्यवहार करना चाहिए ताकि संस्था के अंदर जब भी कोई समस्या आएंगे तो वह एक साथ खड़े होकर समस्या का समाधान कर सके।

हमारा उद्देश्य ना केवल संस्था चलाना होता है बल्कि उस संस्था में कार्य करने वाले कर्मचारियों का भी ध्यान रखना संस्था के सर्वोच्च पदाधिकारी का होता है। यदि किसी कर्मचारी की तबीयत खराब है और उसे जबरदस्ती काम दिया जा रहा है तो उस कर्मचारी के साथ यह दुर्व्यवहार किया जा रहा है इसको रोकने के लिए सरकार कुछ ऐसी पॉलिसी एवं नियम बनाती है। जिससे इस दुराचार को रोका जा सके। जब सरकार के सामने ऐसी समस्या सामने आई तो उन्होंने एक महत्वकांक्षी एवं कर्मचारियों के हित के लिए एक योजना बनाई जिसका नाम स्वास्थ्य बीमा योजना है यह योजना कर्मचारी राज्य बीमा निगम द्वारा बनाई गई है।

आज हम इस लेख के माध्यम से आपको ESIC के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी देंगे तथा इस के माध्यम से ई पहचान कार्ड कैसे प्राप्त करें उसके बारे में भी विस्तार पूर्वक आपको बताएंगे।

ESIC (Employees State Insurance Corporation) क्या है

ESIC ई पहचान कार्ड डाउनलोड करें – ESIC E Pehchan Card

यह एक ऐसी संस्था है जो कर्मचारियों के देखने के लिए बनाई गई है यदि किसी कर्मचारी का दुराचार तथा शोषण किया जाता है तो उसको रोकने के लिए इस संस्था के नियमों के तहत कंपनियों तथा कारखानों पर कार्रवाई की जाती है कर्मचारी राज्य बीमा निगम का मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है। ईएसआई एक्ट 1948 के तहत राज्य विधि कर्मचारी राज्य बीमा निगम द्वारा दिशा निर्देश के तहत सारे कार्य किए जाते हैं।

इसका  मुख्य उद्देश्य संस्था कारखानों या श्रमिकों के कार्य करते समय विकलांगता बीमारी या अन्य दुर्घटना हो जाने पर उसे लाभ पहुंचाया जाता है जिससे कर्मचारी के मृत्यु या विकलांग होने के बाद उसका फायदा उसके परिवार को पहुंचाया जा सके। इससे कर्मचारी अपने कार्य को बड़े इमानदारी से करते हैं और पूरी लगन के साथ उसे संपन्न करने की कोशिश करते हैं।

ई पहचान कार्ड क्या है

यह कार्ड कर्मचारी राज्य बीमा निगम द्वारा दिया जाता है यह एक तरह का पहचान पत्र जैसे होता है जिसका रंग नीला और पीला होता है। इसके तहत कर्मचारियों की कार्य करते वक्त दुर्घटना या मृत्यु होने पर उसे आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है यदि कोई कर्मचारी की दुर्घटना हो जाती है तो उसे अस्पताल में भर्ती करने से लेकर दवाई तक का सारा खर्च इस कार्ड के माध्यम से दिया जाता है।

Check Also: UPBOCW: श्रमिक पंजीयन कार्ड, उत्तर प्रदेश श्रम विभाग पंजीकरण, Bocw Up

जैसे हर भारतीय के पास आधार कार्ड होना जरूरी है उसी तरह से हर कर्मचारियों के पास ई पहचान कार्ड होना अति आवश्यक है यह उनके कार्य को दिखाता है कि वह किस कंपनी अथवा संस्था में काम कर रहे हैं उसी के माध्यम से उन्हें आर्थिक सहायता एवं अनुदान दिया जाता है।

ई पहचान कार्ड के लाभ

  • इसका सबसे बड़ा लाभ यह है कि कर्मचारी को आर्थिक मदद मिलती है।
  • यहां ईएसआई एक्ट के तहत कर्मचारी को और उसके परिवार को इस कार्ड के माध्यम से फायदा प्राप्त होता है।
  • कर्मचारी राज्य बीमा निगम द्वारा कर्मचारी को बीमारी की अवस्था में नगद भुगतान के रूप में मदद दी जाती है लेकिन इसके लिए कुछ शर्तें एवं नियम बनाए गए हैं जिसका पालन करना कर्मचारी की जिम्मेदारी होती है अन्यथा वह इस ई पहचान कार्ड का लाभ प्राप्त नहीं कर पाएगा।
  • यदि कोई महिला कर्मचारी गर्भवती है तो उसके मातृत्व के समय कोई बीमारी हो जाती है तो उसे आर्थिक लाभ के लिए पात्र होंगे।
  • यदि कोई कर्मचारी कार्य करते हुए विकलांग हो जाता है तो उसे इस कार्ड के माध्यम से विकलांग भुगतान प्रदान किया जाएगा।
  • यदि किसी कर्मचारी की मृत्यु हो जाती है तो उसके परिजनों को ₹10000 तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएंगी।

ESIC ई पहचान कार्ड से कैसे इलाज कराएं

यदि कोई कर्मचारी इस ई पहचान कार्ड का लाभ लेना चाहता है तो उसके लिए कर्मचारी के क्षेत्रीय इलाके में डिस्पेंसरी या हॉस्पिटल होना जरूरी है यदि आपको सर्दी, जुखाम, खासी, बुखार आदि जैसे छोटी बीमारी है तो आप ई पहचान कार्ड दिखाकर अस्पताल से तुरंत दवाइयां प्राप्त कर सकते हैं। यदि कर्मचारी को बड़ी बीमारी या कोई बड़ा ऑपरेशन करवाना है तो उसके लिए सबसे पहले अपने नजदीकी अस्पताल में हॉस्पिटल में भर्ती होने के लिए फॉर्म भरवाना होगा। फिर उसका फायदा लेने के लिए मरीज को एडमिट करना होगा। जब मरीज एडमिट हो जाता है तब इश्क कार्ड के माध्यम से उसका इलाज हो पाता है तथा इस कार्ड के माध्यम से उस व्यक्ति के लिए भोजन सोने रहने आदि की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाती है।

ई पहचान कार्ड कैसे बनाएं

  • ईएसआईसी कार्ड बनाने के लिए सबसे पहले आपको कर्मचारी राज्य बीमा निगम के नजदीकी ब्रांच में जाना होगा।
  • वहां पर संबंधित अधिकारी बैठे होंगे उन्हें अपने बारे में जानकारी देनी होगी।
  • उसके बाद आप एक फॉर्म प्राप्त करेंगे।
  • उसमें सारी जानकारी विस्तार पूर्वक भर दे और संबंधित दस्तावेज अटैच कर दें।
  • इसके बाद फॉर्म और दस्तावेज अधिकारी को दे और उनसे एक रसीद प्राप्त कर ले।
  • कुछ दिनों के बाद आपको ई पहचान कार्ड प्राप्त हो जाएगा। जिस का रंग पीला होगा।
  • इसमें आपका e-pehchan कार्ड नंबर और अन्य जानकारी दर्ज होगी।
  • इस तरह से आप ईएसआईसी कार्ड बनवा सकते हैं।

ई पहचान कार्ड कैसे डाउनलोड करें

  • सबसे पहले आपको इसकी ऑफिशियल वेबसाइट www.esic.in में जाना होगा।
  • आप यूजर ID और पासवर्ड दर्ज करें और Log in के बटन पर क्लिक करें।
  • अब आपके सामने नया पेज खुल जाएगा जिसमें ई पहचान कार्ड की लिंक दी होगी, उस पर आप क्लिक करें।
  • अब आप जिस भी कर्मचारी का ई पहचान कार्ड प्रिंट करना चाहते हैं उस कर्मचारी का नाम सर्च करें।
  • अब उस कर्मचारी के नाम के सामने “View Counter Foil” का विकल्प दिखाई देगा उस पर आप क्लिक करें।
  • इसके बाद एक नया पेज खुल जाएगा और उसमें Apply का बटन दिखाई देगा उस पर क्लिक करें।
  • अब आप इसके बाद डाउनलोड कर सकते है।
  • इस तरह से आप ई पहचान कार्ड बड़े आसानी से डाउनलोड करें प्रिंट निकाल सकते हैं।

आशा करता हूं मेरे द्वारा दी गई जानकारी से आप संतुष्ट होंगे। इस लेख का केवल यह उद्देश्य है कि इन पहचान कार्ड के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान करना ताकि कर्मचारियों को इसका लाभ हो सके तथा यह भी बताना उद्देश्य है कि ESIC कार्ड के फायदे क्या है और इसका लाभ कर्मचारियों को कैसे प्राप्त होगा।

Leave a Comment